RAM और ROM क्या है ? – What is RAM or ROM In Hindi

Spread the love

RAM और ROM क्या है –  आज का दौर Technology का है और हम भी इस टेक्नोलॉजी का एक हिस्सा-सा बन गए हैं। हमारे चारों तरफ टेक्नोलॉजी से निर्मित वस्तुओं की कमी नहीं है। टेक्नोलॉजी ने हमारे जीवन में अपनी एक अलग जगह बना ली है। इसी टेक्नोलॉजी का हिस्सा RAM और ROM है जो हमारे मोबाइल या कम्प्यूटर में होती है। आज हम RAM और ROM के बारे में विस्तार से जानेंगे कि इनके क्या काम है और इन दोनों में क्या अन्तर होता है।

RAM or ROM में बहुत से यूजर को difference नहीं पता होता है तथा बहुत से यूजर इनके नाम से इन्हें एक ही समझ लेते हैं। दोस्तों इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको कभी-भी RAM और ROM में difference या इनके बारे में किसी को बताने में कोई परेशानी नहीं होगी।

RAM क्या है – RAM Kya Hai

RAM की Full Form Random Access Memory होती है। यह एक अस्थायी Memory है अर्थात जब कम्प्यूटर बंद हो जाता है तो RAM अपने डाटा को खो देती है। जब हम किसी Application ya Software का इस्तेमाल करते हैं तो वह डाटा रैम में run होता है और मोबाइल/कम्प्यूटर के बंद होने पर रैम (RAM) में मौजूद सभी डाटा (Data) मिट जाता है।

 

इसलिए कहां जाता है कि जिस लैपटॉप या कम्प्यूटर की रैम (RAM) जितनी अधिक होगी, वह उतना ही तेज चलेगा। क्योंकि अगर Laptop/Computer की RAM अधिक होती है तो डिवाइस में एक साथ कई Application/Software open करने पर रैम उनके Data को आसानी से Store कर पाती है और आपको अच्छी Speed मिलती है। RAM मुख्यतः दो प्रकार की होती है-

  • SRAM – Static Random Access Memory
  • DRAM – Dynamic Random Access Memory

 

ROM क्या है – ROM Kya Hai

CD ROM

ROM की Full Form Read Only Memory होती है। यह किसी भी कम्प्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल की प्राइमरी मेमोरी और स्थायी मेमोरी होती है। रोम की क्षमता रैम से अधिक होती है क्योंकि हम जो भी App, File, Music, Videos आदि अपनी डिवाइस में Download करते हैं तो वह सभी डाटा हमारे मोबाइल या कम्प्यूटर की रोम (ROM) में स्थायी रूप से स्टोर होता है।

ROM और RAM दोनों किसी भी डिवाइस की महत्वपूर्ण Memory है। इसलिए Mobile, Laptop ya Computer को खरीदते समय अपने Budget के अनुसार सही रैम और रोम  चुनाव करना चाहिए। ROM तीन प्रकार की होती है-

  • PROM – Programmable Read Only Memory
  • EPROM – Erasable and Programmable Read Only Memory
  • EEPROM – Electrically Erasable and Programmable Read Only Memory

RAM or ROM में क्या अंतर है – Difference Between RAM and ROM

दोस्तों उपर्युक्त RAM व ROM के बारे में जानने के बाद हम इन दोनों में निम्न अन्तर निकाल सकते हैं।
  • RAM अस्थायी मेमोरी है जबकि ROM स्थायी प्रकार की मेमोरी होती है।
  • RAM और ROM में से RAM की स्पीड तेज होती है।
  • ROM में हमारे मोबाइल या कम्प्यूटर का सभी डाटा Save रहता है जबकि RAM में हमारे कम्प्यूटर या मोबाइल में Running application/software etc का data अस्थायी रूप से Save रहता है।
  • ROM को कार्य किसी भी डाटा को स्थायी रूप से Save करने का होता है जबकि RAM का कार्य Information को तेजी से CPU (Central Processing Unit) अर्थात कम्प्यूटर के दिमाग तक पहुंचाने का होता है।

आज आपने सीखा

दोस्तों इस प्रकार हम पोस्ट में दी गई जानकारी से आसानी से RAM or ROM के बारे जान पाये कि इन दोनों के क्या कार्य है और दोनों में क्या अन्तर होता है।

हमें उम्मीद है कि आपको RAM or ROM के बारे में दी गई यह जानकारी पसंद आई होगी। अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो Comment करके जरूर बतायें।

Spread the love

Leave a Comment